Leading Hindi News Portal from Central India
देश

विश्‍व के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान की शुरुआत, पीएम मोदी की हरी झंडी

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्चुअल संबोधन के जरिए शनिवार को कोविड-19 के खिलाफ विश्‍व के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान की शुरुआत की। अपने संबोधन में पीएम मोदी ने कहा कि "कोरोना वैक्सीन की दो डोज जरूरी है और दूसरे डोज के बाद हीं ये कारगर है"। वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से आयोजित कार्यक्रम में प्रधानमंत्री के साथ भारत के सभी राज्‍यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 3006 टीकाकरण केंद्र आपस में जुडे। मोदी ने कहा, आज के दिन का पूरे देश को बेसब्री से इंतेजार रहा है। कितने महीनों से देश के हर घर में बच्चे, बूढ़े, जवान सभी की जुबान पर ये सवाल था कि कोरोना वैक्सीन कब आएगी। अब वैक्सीन आ गई है, बहुत कम समय में आ गई है। उन्होंने कहा, आज वो वैज्ञानिक, वैक्सीन रिसर्च से जुड़े अनेक लोग विशेष प्रशंसा के हकदार हैं, जो बीते कई महीनों से कोरोना के खिलाफ वैक्सीन बनाने में जुटे थे। आमतौर पर एक वैक्सीन बनाने में बरसों लग जाते हैं। लेकिन इतने कम समय में एक नहीं, दो मेड इन इंडिया वैक्सीन तैयार हुई हैं।
कोरोना वैक्सीन की दो डोज लगनी बहुत जरूरी है। पहली और दूसरी डोज के बीच, लगभग एक महीने का अंतराल भी रखा जाएगा। दूसरी डोज लगने के 2 हफ्ते बाद ही आपके शरीर में कोरोना के विरुद्ध जरूरी शक्ति विकसित हो पाएगी।

16 January, 2021
Share |