Leading Hindi News Portal from Central India
भोपाल

शिवराज मंत्रिमंडल विस्तार से पहले तीन बड़े नेता की शिवराज से मुलाकात,क्या है सियासी मायने जानिए...

 

 

भोपाल. प्रदेश की सियासत में इन दिनों कई नई घटनाएं घट रही है. लेकिन इन सबके बीच में बीजेपी के 3 बड़े नेता और अपने अपने इलाकों में दखल रखने वाले चेहरे देर शाम मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मिलने पहुंचे. खंडवा का बड़ा नाम आदिवासी नेता और बीजेपी विधायक विजय शाह, बालाघाट में अपना दबदबा रखने वाले विधायक और पूर्व मंत्री गौरीशंकर बिसेन समेत बुंदेलखंड के सागर से चुनकर आने वाले विधायक और पूर्व नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने सीएम शिवराज से मुलाकात की. देर शाम हुई इस मुलाकात के कई तरह के सियासी कयास लगाए जा रहे हैं.

 

क्या है मुलाकात के मायने

दरअसल बीजेपी के बड़े और पुराने 3 बड़े चेहरे विजय शाह, गौरीशंकर बिसेन और गोपाल भार्गव के मंत्रिमंडल में शामिल होने को लेकर असमंजस के हालात हैं . कई दफा इस बात की खबर आई है की सिंधिया समर्थक चेहरों को मंत्रिमंडल में एडजस्ट करने के लिए पार्टी पुराने चेहरों को बाहर रख सकती है. इन खबरों की भनक लगते ही आज गोपाल भार्गव, विजय शाह और गौरीशंकर बिसेन ने सीएम शिवराज से मुलाकात की और यह जताने की कोशिश की के मंत्रिमंडल विस्तार में उनकी अनदेखी न की जाए. पूर्व नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव पार्टी के लिए इस समय इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि सागर के सुरखी विधानसभा सीट पर उपचुनाव होना है और कभी बीजेपी के खिलाफ खड़े होने वाले गोविंद सिंह राजपूत अब बीजेपी के बैनर तले चुनाव लड़ने की तैयारी में है . ऐसे में गोपाल भार्गव की नाराजगी सुरखी विधानसभा सीट पर पार्टी के लिए बड़ी मुश्किल बन सकती है. ऐसे में गोपाल भार्गव ने भी सीएम शिवराज से मिलकर अपनी अहमियत को जताने की कोशिश की है. वही प्रदेश में होने वाले उपचुनाव को लेकर तीनों नेताओं की भूमिका को लेकर भी चर्चा हुई है. हालांकि अपनी मुलाकात को तीनों नेताओं ने सामान्य मुलाकात का हिस्सा बताया है. लेकिन इस मुलाकात से साफ है की बीजेपी इन बड़े नेताओं की अनदेखी नहीं कर सकती है. और उपचुनाव में जिम्मेदारी देने के साथ ही मंत्रिमंडल विस्तार होने पर पर्याप्त जगह देने का भरोसा भी दिया गया है.

 

02 June, 2020
Share |