Leading Hindi News Portal from Central India
विदेश

पाकिस्तान की सरजमीं का इस्तेमाल आतंकवादी गतिविधियों के लिए ना हों - अमेरिका

अमेरिका के एक शीर्ष जनरल का कहना है कि पाकिस्तान यह सुनिश्चित करे कि उसकी सरजमीं का इस्तेमाल पड़ोसियों के खिलाफ किसी भी आतंकवादी हमले के लिए ना हो। अमेरिकी सेन्ट्रल कमांड के कमांडर जनरल जोसेफ वोटल ने इस सप्ताह पाकिस्तान की यात्रा के दौरान यह बात कही। कमांडर के तौर पर यह पाकिस्तान की उनकी तीसरी यात्रा थी।
यात्रा के दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री शाहिद खाकन अब्बासी, रक्षा मंत्री खुर्रम दस्तगीर, स्टाफ कमिटी जनरल के संयुक्त प्रमुख जनरल जुबैर हयात और सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा से मुलाकात की। अमेरिकी दूतावास ने यहां एक बयान में कहा, ‘‘पाकिस्तानी नेताओं के साथ बातचीत में उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि सभी पक्षों को यह सुनिश्चित करने पर काम करना चाहिए कि पाकिस्तान की धरती का उसके पड़ोसियों के खिलाफ आतंकवादी हमले करने या उनकी योजना बनाने के लिए इस्तेमाल ना हो।’’ जनरल वोटल ने कहा कि अमेरिका और पाकिस्तान क्षेत्रीय सुरक्षा और स्थिरता सुनिश्चित करने के लिए साथ मिलकर काम कर रहे हैं तो दोनों देशों को सैन्य संबंधों को और मजबूत करने की जरुरत है।
वोटल ने कल प्रधानमंत्री अब्बासी से मुलाकात की और इस दौरान अब्बासी ने कहा कि अफगानिस्तान में चल रहे संघर्ष के कारण पाकिस्तान सबसे ज्यादा प्रभावित है जिसके कारण वहां शांति और स्थिरता में पाकिस्तान की महत्वपूर्ण दावेदारी है।
अब्बासी ने वोटल के समक्ष कश्मीर मुद्दा भी उठाया। उन्होंने क्षेत्रीय हितों के मुद्दों को हल करने के लिए साथ मिलकर काम करने की महत्ता पर जनरल वोटल से सहमति जताई।

20 August, 2017
Share |