Leading Hindi News Portal from Central India
इंदौर

रिकार्ड डिलिवरी कराने वालीं पद्मश्री डॉक्टर भक्ति यादव ने तोड़ा दम

 

इंदौर। एक लाख महिलाओं को डिलिवरी कराने वाली पद्मश्री डॉक्टर भक्ति यादव का आज सुबह निधन हो गया। 92 साल की भक्ति यादव को इसी साल उन्हें पद्मश्री सम्मान से विभूषित किया गया था। भक्ति यादव लंबे समय से बीमार चल रहीं थी, लेकिन इस दौरान उन्होंने मरीजों को देखना नहीं छोड़ा था। भक्ति यादव ने अपने अंतिम दौर में भी पीड़ित महिलाओं का इलाज करना नहीम छोड़ा था। डॉक्टर भक्ति यादव के नाम 64 साल में एक लाख से ज्यादा महिलाओं की डिलिवरी कराने का रिकॉर्ड भी था। इसके साथ ही वे इंदौर के महात्मा गांधी मेमोरियल मेडिकल कॉलेज की पहली महिला डॉक्टर थीं।
उन्हें को मध्यप्रदेश की पहली महिला रोग विशेषज्ञ माना जाता है। डॉ. भक्ति यादव से जुडे लोगों का कहना है कि वे सन् 1948 से ही नि:शुल्क उपचार कर रही थीं। जानकारी के अनुसार वे प्रसव कराने के लिए भी कोई शुल्क नहीं लेती थीं।
उनका जन्म उज्जैन जिले के महिदपुर में 3 अप्रैल 1926 को हुआ था और वे परदेशीपुरा में अपने वात्सल्य नर्सिंग होम का संचालन करती थीं।

 

14 August, 2017
Share |