Leading Hindi News Portal from Central India
विदेश

2017 का भारत1962 के भारत से अलग है उसी तरह चीन भी अलग है - चीन

चीन के विदेश मंत्रालय ने रक्षा मंत्री अरण जेटली की उन टिप्पणियों को खारिज किया जिनमें कहा गया था कि 2017 का भारत 1962 के भारत से अलग है। चीनी विदेश मंत्रालय ने कहा कि आज का चीन भी 1962 के चीन से अलग है तथा देश अपनी क्षेत्रीय संप्रभुता की रक्षा के लिए सभी आवश्यक कदम उठाएगा।
जेटली ने चीन को तब जवाब दिया था जब चीन ने दोनों देशों के बीच 55 साल पहले हुए युद्ध का संदर्भ देते हुए भारत से ऐतिहासिक पाठ से सीखने को कहा था। रक्षा मंत्री जेटली ने कहा था, यदि वे हमें याद दिलाने की कोशिश कर रहे हैं, तो 1962 की स्थिति अलग थी और 2017 का भारत अलग है। उन्होंने यह भी कहा था कि सिक्किम सेक्टर में वर्तमान गतिरोध चीन द्वारा खड़ा किया गया है।
जेटली की टिप्पणियों के जवाब में चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता जेंग शुआंग ने कहा, वह ठीक कह रहे हैं कि 2017 का भारत 1962 के भारत से अलग है, लेकिन उसी तरह चीन भी अलग है। उन्होंने कहा कि सिक्किम सेक्टर में दोनों देशों के बीच सीमा 1890 की चीन-ब्रिटिश संधि के तहत भलीभांति निर्धारित है।
शुआंग ने कहा, मैं चाहूंगा कि भारतीय पक्ष 1890 की संधि का तत्काल पालन करे और सैनिकों को वापस बुलाए जो चीनी क्षेत्र में घुस आए हैं। उन्होंने कहा, चीन अपनी क्षेत्रीय संप्रभुता की रक्षा के लिए सभी आवश्यक कदम उठाएगा। शुआंग ने यह भी आरोप लगाया कि डोकलाम क्षेत्र में भारत अपने अवैध प्रवेश को छिपाने के लिए भूटान का इस्तेमाल कर रहा है।
भूटान ने मामले में चीन सरकार के समक्ष विरोध दर्ज कराया है।

 

 

03 July, 2017
Share |