Leading Hindi News Portal from Central India
ग्वालियर

दो सीटों के उपचुनाव की सरगर्मियां तेज,बीजेपी-कांग्रेस ने झौंकी ताकत


भिण्ड। प्रदेश की दो सीटों पर हो रहे उपचुनाव में अंतिम दौर का प्रचार शबाब पर है। बीजेपी और कांग्रेस ने अटेर और बांदवगढ़ सीट पर कब्जा जमाने के लिए पूरी ताकत झौंक दी है। सीेएम शिवराज और नरेंद्र सिंह तोमर ने आज अटेर विधानसभा सीट पर धुआंधार तरीके से चुनाव प्रचाक किया। सीएम शिवराज ने चुनाव प्रचार में कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि गांधी सागर निर्माण के बाद चम्बल नहर बनाई गई लेकिन 27 वर्षों तक चम्बल नहर का भिण्ड जिले को पानी नहीं मिला। कांग्रेस सरकार ने कभी भी किसानों की कठिनाई पर गौर नहीं किया। 2003 के बाद मध्यप्रदेश में भाजपा की सरकार के गठन के बाद आज भिण्ड जिले में नहर के अंतिम छोर तक पानी पहुंचाने की व्यवस्था की गई इससे स्पष्ट है कि कांग्रेस के पास विकास की कोई सोच नहीं थी। वहीं केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि आज हम सब लोग अटेर विधानसभा क्षेत्र के भाजपा प्रत्याशी अरविन्द भदौरिया के लिए समर्थन मांगने आए है। 2009 में आपने डॉ. अरविन्द भदौरिया को अपना आशीर्वाद दिया था लेकिन 2013 में आपके आशीर्वाद में थोड़ी कमी रह गई। और यही तीन साल में कांग्रेस नेता इस क्षेत्र का विकास नहीं करवा पाए। उन्होंने कहा अब चुनावों में कांग्रेस नेता विकास के नाम पर आपके पास वोट मांगने आ रहे है। जब वह 50 साल में इस क्षेत्र में कुछ नहीं करा पाए तो अब विकास क्या करा पायेंगे।
वहीं कांग्रेस ने भी प्रदेश की बीजेपी सरकार पर जमकर हमला बोला। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरूण यादव ने कहा है कि प्रदेश में बीजेपी सरकार की कथनी और करनी के अंतर को हम हमेशा राज्य की जनता के समक्ष रखते रहे हैं। सूबे की आपकी ‘बहिनों-भाजियों’ की जबरदस्त परेशानी का सबब आपकी शराब नीति है। एक ओर तो आप नई शराब की दुकानें नहीं खोलने की छद्मता कर वाहवाही बटोरते हैं और दूसरी ओर सूबे में बहिनों (महिलाओं) और भांजियों (बेटियों) के खुले विरोध के बावजूद, बहिन-बेटियों द्वारा चाहे गये स्थानों से शराब की दुकानें नहीं हटवाते।। अरुण यादव ने इस मामले में सीेएम शिवराज को पत्र भी लिखा है।

06 April, 2017
Share |